1.1 C
New York
December 6, 2019
Spiritual/धर्म

महारथी कर्ण की मृत्यु की वजह

Spiritual/धर्म (Giltv) महाभारत के युद्ध में कर्ण को ऐसे योद्धा के रूप में जाना जाता है, जिनसे स्वंय श्रीकृष्ण बेहद प्रभावित थे। उनके व्यक्तित्व के कई ऐसे गुण थे, जो उन्हें एक अच्छा योद्धा होने के साथ एक अच्छा इंसान भी बनाते थे लेकिन फिर भी उनसे कुछ गलतियां ऐसी हो गईं
गुरु परशुराम ने कर्ण को श्राप दे दिया किे तुम मेरी दी हुई शिक्षा उस समय भूल जाओगे, जब तुम्हें इसकी सबसे ज्यादा जरुरत होगी। श्राप का कारण था कि‌ कर्ण ने खुद को क्षत्रिय बताकर शिक्षा ली थी, जि्ससे गुरु परशुराम क्रोधित हो गए क्योंकि उन्होंने क्षत्रियों को ज्ञान न देने की प्रतिज्ञा ली थी।
एक बार कर्ण रथ पर सवार होकर कहीं जा रहे थे, कि उनके पहिए से एक गाय का बछड़ा दबकर मर गया। एक ब्राह्मण ने ये सब देखकर क्रोधवश कर्ण को श्राप दे दिया कि यही रथ तुम्हारी मृत्यु का कारण बनेगा।
कर्ण को देवराज इंद्र से दि्व्यास्त्र प्राप्त हुआ था, जिसे कर्ण ने अर्जुन को मारने के लिए रखा था लेकिन श्रीकृष्ण की युक्ति की वजह से घटोत्कच को कौरव सेना पर आक्रमण के लिए भेजा गया, उसके आतंक से परेशान होकर कर्ण को घटोत्कच पर दि्व्यास्त्र का प्रयोग करना पड़ा।

Related posts

मणिकर्ण नामक पवित्र तीर्थ

GIL TV News

ओंकारेश्वर ज्योतिर्लिंग

GIL TV News

सूर्य को अर्घ्य देने का तरीका

GIL TV News

Leave a Comment